मित्रों, दोस्तों, शुभचिंतकों.......

इस बार
बिजली मैय्या की कृपा-दृष्टि रही अपार

इसीलिये इक-दूजे का पर्याय रहे
नव-वर्ष और अंधियार

कईं बार
हर-बार
बार-बार

लगा कि ये भी नये ज़माने का बहाना है
क्योंकि बिजली तो चंचला है
जब से प्रकाश में आई है
ससुरी का तभी से आना-जाना है

जिस देश में सरकार और कानून
मिट्टी, पानी और खून
सरकारी कायदे
वचन और वायदे
नहीं टिक पाते
तो फिर आप देश के भाग्य की कौन सी अदा पर मरते है..?
हुजुर...!!
आप इस छिनाल पर विश्वास ही क्यों करते हैं..?

आप सहेजिये अपना करैक्टर
या जेनरेटर या इन्वर्टर
रही बात इस ससुरी के भरोसे ब्लागिंग की
ये नहीं हो पायेगी
बिजली हर बार नया झटका
झटके से दे जायेगी

बहरहाल आप सभी मित्रों, दोस्तों, शुभचिंतकों को
इस 'आंगल नव वर्ष' की हार्दिक शुभकामनाएं..
अनंत शुभकामनाएं...
विशिष्ट शुभकामनाएं....

फिलहाल तो इसी शुभकामना-पोस्ट से काम चलाएं

विश्वास रखें
कि यदि बिजली टिकी रही तो मैं
एक-एक ब्लाग पर आऊंगा
रोम-रोम से निकलती
शुभकामनाऒं का
गरमा-गरम अहसास
आपकी
ठंडे की-बोर्ड से चिपकी
ऊंगलियों से करवाऊंगा....

आपकी
ठंडे की-बोर्ड से चिपकी
ऊंगलियों से करवाऊंगा....
--योगेन्द्र मौदगिल

26 comments:

विवेक सिंह said...

चलिए आपके बहाने को हम सही मानते हैं . आपको भी नया साल बहुत बहुत मुबारक हो जी :)

seema gupta said...

दुखदायी जो पल थे उन्हें भुलाएं
मधुर स्म्रतियों से नव वर्ष को गले लगायें ,
करते है दुआ हम रब से सर झुकाके ...
इस साल के सारे सपने पुरे हो आपके.
आपको भी नया साल बहुत बहुत मुबारक
regards

राज भाटिय़ा said...

अच्छा लगा आप का बहाना , चलिये हम ने आप की बधाई सर आंखो पर रखी, धन्यवाद.
आप कॊ ओर आप के परिवार को भी हम सब की ओर से नववर्ष की हार्दिक मंगलकामनाएँ!

विनय said...

नया साल बहुत बहुत मुबारक हो

रंजना [रंजू भाटिया] said...

नए साल की बहुत बहुत बधाई ...

रंजना said...

खूब कही.
नव वर्ष मंगलमय हो.

मोहन वशिष्‍ठ said...

मौदगिल साहब बहाना नहीं चलेगा आप कहते हो कि बिजली गुल है जबकि पानीपत में तो बिजली बनती ही है

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

सब को टिपियाना संभव नहीं कोई बहाना तो चाहिए! चलिए हम सहेजते हैं, इस से अच्छा न मिला तो अगली बार इस्तेमाल के लिए।

ताऊ रामपुरिया said...

नये साल की घणी रामराम जी. इन्तजार करते हैं कि बिजली लौट आ जाये नही उसको ढुंढने के लिये विज्ञापन नुकलवाते हैं.:)

"अर्श" said...

नया साल बहोत मुबारक हो आपके तथा आपके पुरे परिवार के लिए...



arsh

गौतम राजरिशी said...

नया साल बहुत-बहुत मुबारक हो योगेन्द्र जी...कल पूरे दिन मोबाईल आपका या तो व्यस्त रहा या लाइन नहीं मिल पा रहा था....

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...

बडा नेक खयाल है आपका
नव वर्ष बढिया आरँभ हुआ होगा
और भी बढिया रहे
यही शुभकामना है
-- लावण्या

dr. ashok priyaranjan said...

प्रभावशाली साथॆक अभिव्य्क्ति ।-

http://www.ashokvichar.blogspot.com

Zakir Ali 'Rajneesh' said...

नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाऍं।

डॉ .अनुराग said...

naye saal ki hardik shubhkaamnaye aapko...vaise ham bhi invertar zindabaad kar rahe hai.

COMMON MAN said...

आप का लिखा हुआ पढ़कर तबियत बाग-बाग हो जाती है.

महेंद्र मिश्रा said...

जिस देश में सरकार और कानून
मिट्टी, पानी और खून
सरकारी कायदे
वचन और वायदे
नहीं टिक पाते
तो फिर आप देश के भाग्य की कौन सी अदा पर मरते है..?
हुजुर...!!
आप इस छिनाल पर विश्वास ही क्यों करते हैं..?

bahut hi joradar yogendra ji
badhai
sarakaar or chinaal me ab fark hi kya raha gaya hai .
bindas.

मुकेश कुमार तिवारी said...

योगेन्द्र जी,

नये वर्ष की शुभकामनाएँ. आपके ब्लॉग पर आना एक सुखद अनुभव रहा. स्मार्ट इंडियन पर प्राप्त लिंक से खिंचा चला आया.

बिजली के व्यापक और समग्र प्रभाव को बताते हुये मुझे ऐसा लगा कि "छिनाल" सा विशेषण कुछ तल्ख हो गया है, इसे अन्यथा ना लें.

मुकेश कुमार तिवारी

यदि ठीक पायें तो कभी मेरे ब्लॉग पर आयें.

Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

मोदगिल जी, नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाऎं.
पहने सपनों की विजय माल
हो बहुत मुबारक नया साल
फिर से उम्मीद के नए रंग
भर लाएँ मन में नित उमंग

खुशियाँ ही खुशियाँ बेमिसाल
हो बहुत मुबारक नया साल

RC said...

Wish you a very happy, peaceful and contented 2009!

God bless
RC

अल्पना वर्मा said...

आप कॊ ओर आप के परिवार को भी हम सब की ओर से नववर्ष की हार्दिक मंगलकामनाएँ!

abhivyakti said...

badhiya. nav varsh ki hardik shubhkamnaye..

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

उम्मीद पे दुनिया कायम है! नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं!

अनुपम अग्रवाल said...

दो लाइनें याद आरही हैं
आने में सदा देर ,लगाते ही रहे तुम ,
जाते रहे हम जान से आते ही रहे तुम

अभिषेक ओझा said...

नए साल की शुभकामनायें कविवर ! इधर कुछ दिनों की अनुपस्थिति रही, उसके लिए क्षमा.

Udan Tashtari said...

नए साल की बहुत बहुत बधाई ...

ये तो बिजली है..अपनी अदा दिखाती ही रहेगी.