HASYA KAVI YOGINDER MOUDGIL

6 comments:

Majaal said...

अब youtube link में भी तकनीकी समस्या, हमने यूँ ही नहीं कहा था समस्या गंभीर है ! नुक्कड़ ब्लॉग में आपको विडियो देख लिया है ... जय हो ...

जारी रखिये .. !

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

आपके ब्लॉग को खोलने में कुछ एरर आ रहा है ...


बढ़िया रहा वीडियो

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत बढ़िया कविता पाठ ....बहुत अच्छा लगा ..

ZEAL said...

.

योगेन्द्र जी,

वीडियो देखा और सुना, बहुत बढ़िया हास्य व्यंग है। जूतियों के अनेक रूप दिखाए आपने।

---के दफ्तरों में चलती हैं, चांदी की जूतियाँ ----

---देश को भी रखते हैं, जूतियों की नोंक पे ----

प्रशंसा के लिए शब्द कम हैं मेरे पास !

आभार !

.

डॉ. नूतन - नीति said...

bahut sundar hasyvyang ke sang kavita paath.....sundar..

अनुपमा पाठक said...

nice to listen !
sundar kavita path!!!!