देख ल्यो जी म्हारे कार्टून

जी हां ये देखिये
योगेश समदर्शी जी ने साहित्य शिल्पी पर मेरा ये कार्टून बनाया सुनीता जी और राजीव जी भी मेरे साथ


और ये देखिये
ताऊ रामपुरिया ने भी खेत से कव्वे उड़वाये


और ये देखिये
पंकज सुबीर जी ने भांग पीकर खुद भी साड़ी पहनी मुझे भी पहनायी

साहित्य-शिल्पी और ताऊ रामपुरिया और पंकज सुबीर जी को मेरी ऒर से सादर समर्पित & विनय प्रजापति का विशेष आभार इस पोस्ट के प्रकाशन में सहयोग देने के लिये

29 comments:

PN Subramanian said...

पंचमी (रविवार) तक लगता है सब मस्ती में ही रहेंगे.

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

mast, umda, badhiya, bhaang ki tarang me jhoomta lag raha hai ang-ang.

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

mast, umda, badhiya, bhaang ki tarang me jhoomta lag raha hai ang-ang.

विनीता यशस्वी said...

waah waah....

आशीष खण्डेलवाल (Ashish Khandelwal) said...

wah ji wah .. mazedaar

Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

हा हा हा हा हा .........हरियाणे की नार...बहन मौदगिल

रूप तेरा चन्दा-सा खिल रिया,
बे ने घढ़ी बैठ के ठाली
कर तावल वार भाजरी,
जिसी दारू माँ आग लाग री
कलियाँदार घाघरी,
पतली कम्मर लचकत चाली ।
हा हा हा हा हा.......

Vijay Kumar Sappatti said...

wah ji wah ,mazaa aa gaya ..
dekh kar hi holi ka ranga chad gaya ..
jai ho[li]

नीरज गोस्वामी said...

घणा जच रया हो भाई जी ..".तेरे हुस्न की के तारीफ करूँ...इब कुछ कहते हुए भी डरपूं हूँ...कहीं भूल से ये न तू कह बैठे की मैं सबसे ज्यादे सुन्दर हूँ...."

नीरज

neeshoo said...

नीरज जी से सहमत हूँ । होली पर छा गये रंगों की तरह ।

seema gupta said...

" ha ha ha ha ha ha ha ha ye rup bhi khub bhaya...."

Regards

रंजना [रंजू भाटिया] said...

bahut badhiya :)

SWAPN said...

bahut khoob

राजीव रंजन प्रसाद said...

जम के होली मनी है आपकी मौदगिल जी। एक बार दिर शुभकामना स्वीकारें।

Udan Tashtari said...

सही चमक रहे हो महाराज!!

"अर्श" said...

main to fida ho gaya hun maudgil sahi b ab kya karun main aap hi batawo...


ha ha ha ah ha ha ha


arsh

mehek said...

waah bahut khubsurat toons hai:)khas kar aakhari aaha ha

सुशील कुमार छौक्कर said...

वाह मजा आ गया। राजीव जी ने अच्छी होली खेली आपके साथ।

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

बहुरूप पाने के लिए बधाइयाँ!

ajay kumar jha said...

ajee kittee mehnat kar lee sir aapne lugaayee banne ko , shukra hai ki kisi baba ne ab tak na dekhaa warnaa yadi mohit ho jaate to fir to aapkee khair nahin thee. is roop mein to aap miss india kaahe nahin try kiye sir., holee hai aur lagtaa hai abhee rahegee.

राजीव तनेजा said...

:-)

समयचक्र - महेन्द्र मिश्र said...

आपके कारटून तो बड़े मजेदार लगे.
झूमो झूल झुल्लैया जी
होली पे बन गए कृष्ण कन्हैया जी
ओमकारा
जे हो भाई जे हो योगेन्द्र जी होली की हार्दिक बधाई .

Harkirat Haqeer said...

Waah ji Waah...aapke to waare nyare hain....???

राज भाटिय़ा said...

हर रुप मे आप सुंदर लगे जनाब, इतनी भांग क्यो पी ली आप ने , शायद सोचा होगा भटिया जी के हिस्से की भी चढा लूं.
धन्यवाद

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

गज़ब!
योगेन्द्र भाई, इन कार्टूनों में तो आपका रूप निखर आया है.

विनय said...

वाह भाई इलेक्ट्रानिक मीडिया ने लोगों को क्या से क्या बना दिया? हा हा!

संगीता पुरी said...

बुरा न मानो होली है .... अब सबको बडी सुविधा हो गयी है ... आप पकड में आइए या नहीं बुरा हाल बना ही देते हें।

ताऊ रामपुरिया said...

छा गये कविराज, बधाई

रामराम.

दिगम्बर नासवा said...

jay हो gurudev ............
बहुत saj रहे हो हर libas में

बवाल said...

हा हा योगी बड्डे कौन टाइप के दीख पड़ते हैं आप इन कार्टूनों में । एकदम कार्टून नज़र आ रहे हैं। हा हा।